Follow Us:

धारा 370: जावड़ेकर बोले,अलगाववादियों के सुर में सुर मिला रही कांग्रेस

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के मुद्दे पर मचे सियासी घमासान के बीच प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर अलगाववादियों की भाषा बोलने का आरोप लगाया है।

आईएन ब्यूरो अपडेटेड October 17, 2020 19:41 IST
Section 370: javadekar said, congress is getting the voice of separatists
धारा 370: जावड़ेकर बोले,अलगाववादियों के सुर में सुर मिला रही कांग्रेस (फोटो-आईएएनएस)

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के मुद्दे पर फिर सियासी घमासान मच गया है। कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 बहाली की मांग उठाई तो भाजपा ने करारा निशाना साधा है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर अलगाववादियों की भाषा बोलने का आरोप लगाया है। जावड़ेकर ने कांग्रेस को चुनौती देते हुए कहा कि, “अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले को वापस लेने की बात बिहार विधानसभा चुनाव के घोषणापत्र में वह लिखकर दिखाएं।”

जावड़ेकर ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वे चीन और पाकिस्तान की प्रशंसा करते हैं। जावड़ेकर ने शनिवार को कहा, “जो लोग मांग कर रहे हैं कि धारा 370 खत्म करने का फैसला गलत था, इसलिए कांग्रेस वापस लेगी। क्या कांग्रेस बिहार चुनाव के घोषणापत्र में यह कहेगी? 370 हटाने के फैसले का जम्मू कश्मीर सहित पूरे देश की जनता ने स्वागत किया। एक साल में जम्मू कश्मीर में कितनी तरक्की हुई, यह सभी ने देखा है। फिर भी जो थोड़े अलगाववादी हैं, उनके सुर में सुर मिलाकर कांग्रेस बोल रही है।”

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि, “कांग्रेस अब एक संकीर्ण पार्टी बन चुकी है। इसलिए वह देश की जनता की भावनाओं के खिलाफ भूमिका ले रही है।” केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, “राहुल गांधी पाकिस्तान की प्रशंसा करते हैं। किसी भी विषय पर इनको, चीन की प्रशंसा करना अच्छा लगता है। यही कांग्रेस का रूप है।”

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर बोले, “धारा 370 को लेकर संविधान सभा ने भी कहा था कि थोड़े समय में यह चली जाएगी। लेकिन 70 साल रही। धारा 370 हटाने से अलगाववाद खत्म हुआ। वहां दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित, ओबीसी सभी समुदायों को आरक्षण का लाभ मिला। देश में जनता के हितों के अनेक कानून कश्मीर में लागू हुए। ये फायदा होकर भी आज कांग्रेस इसके खिलाफ बोल रही है।”

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, “बिहार चुनाव के मौके पर कांग्रेस अनुच्छेद 370 को हटाने के खिलाफ बोल रही है। मैं चुनौती देता हूं कि पार्टी अपने बिहार के घोषणापत्र में यह लिखकर दिखाए। यह जानबूझकर समाज तोड़ने और वोट बटोरने का राजनीति है। इसकी हम भर्त्सना करते हैं।”

उधर जम्मू एवं कश्मीर में धारा 370 को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने भी शनिवार को कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से तीखे सवाल किए हैं। शाहनवाज हुसैन ने कहा कि धारा-370 को लेकर कांग्रेस एवं राजद अपना रुख साफ करें। बिहार प्रदेश भाजपा मीडिया सेंटर में शनिवार को हुसैन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस अपनी आदत से मजबूर है।

उन्होंने कहा, “आजादी के बाद धारा 370 जम्मू-कश्मीर में लगाई गई थी, जिसको हटाने के लिए डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने बलिदान दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 रुपी कलंक को हटा दिया। लेकिन, जब फारुख अबदुल्ला, महबूबा मुफ्ती कॉन्फ्रेंस कर फिर से धारा-370 को लाने की वकालत करते हैं और कांग्रेस भी उस एजेंडे के साथ खड़ी है।”

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए हुसैन ने कहा कि, “पहले तो कांग्रेस ने बहाना बनाया कि वह इस कॉन्फ्रेंस में नहीं है, लेकिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने साफ तौर पर कह दिया कि धारा 370 हटाना गैर-कानूनी है और उसे स्थापित किया जाना चाहिए।”

हुसैन ने कांग्रेस की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा, “कांग्रेस अलगावादियों की भाषा बोल रही है। कांग्रेस और उसके गठबंधन को बिहार की जनता को बताना होगा कि क्या वे फिर से धारा-370 को वापस लाना चाहते हैं?”

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि, “कांग्रेस मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ करने वाले को टिकट दे देती है, क्या कांग्रेस वोट की राजनीति के लिए बंटवारे की राजनीति की तरफ बढ़ना चाहती है?”

जम्मू कश्मीर में शांति का दावा करते हुए हुसैन ने कहा कि, “अब पूरा राज्य विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। हुसैन ने स्पष्ट कहा कि अब कोई कितनी भी कोशिश कर ले पर धारा-370 फिर से जीवित नहीं हो सकती।”

बिहार चुनाव में जीत का दावा करते हुए हुसैन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ और नीतीश कुमार के नेतृत्व में राजग वर्ष 2020 में 220 सीटें लेकर आएगी।

To Top