Follow Us:

प्रतिबंध हटते ही ताज का दीदार करने पहुंचे चीनी टूरिस्ट!

सरकार के स्पष्ट निर्देश हैं कि ताज महल देखने आ रहे पर्यटकों का स्वागत अदिति देवो भव की परंपरा के तहत ही होना चाहिए। किसी भी पर्यटक को असुविधा का सामना न करना पड़े।

आईएन ब्यूरो अपडेटेड September 22, 2020 13:26 IST
प्रतीकात्मकः ताज महल में चीनी सैलानी

जासूसी के आरोप और एलएसी पर तनातनी के बीच चीनी पर्यटकों का एक दल ताज पहुंचने वाले विदेशियों में से पहला दल है। ध्यान रहे, 21 सितंबर को ही ताज महल पर्यटकों के लिए खोला गया है और पहले ही दिन बिना झिझक चीनी पर्यटकों के दल का ताज देखने पहुंचना भारतीय एजेंसियों दिमाग में खटक रहा है। हालांकि, सरकार के स्पष्ट निर्देश हैं कि ताज महल देखने आ रहे पर्यटकों का स्वागत अदिति देवो भव की परंपरा के तहत ही होना चाहिए। किसी भी पर्यटक को असुविधा का सामना न करना पड़े।

21 सितंबर को अनलॉक-4 के तहत ताजमहल को पर्यटकों के लिए एक बार फिर से खोल दिया गया। छह महीने के बाद जैसे ही ताजमहल खुला उसके दीदार के लिए पहुंचने वाला पहला पर्यटक चीनी नागरिक था। भारत-चीन तनाव के बीच भी ताजमहल खुलने पर चीन  के रहने वाले लियांग चियाचेंग  और उनके साथी खुद को रोक नहीं सके, और इसके दीदार के लिए सबसे पहले पहुंच गए।

कोरोना  महामारी की वजह से ताजमहल को मार्च महीने में ही पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था। ऐसा दूसरी बार हुआ, जब ताजमहल को इतने लंबे समय के लिए पर्यटकों के लिए बंद किया गया था। छह महीने बाद सोमवार को जब ताजमहल फिर से खोला गया, तो पर्यटक  ताज के दीदार के लिए पहुंचने शुरू हो गए।

सख्त प्रोटोकॉल के बाद भी सोमवार को पर्यटक  ताजमहल देखने पहुंचे। एएसआई ने जानकारी दी कि, सोमवार को 1,235 लोग ताजमहल देखने पहुंचे, जिसमें 20 विदेशी नागरिक शामिल थे। कोरोना महामारी से पहले हर दिन लगभग चालीस हजार पर्यटक ताजमहल देखने पहुंचते थे।

To Top