Follow Us:

कोविड-19 लॉकडाउन के बाद महिला फुटबॉल का पहला कैंप मंगलवार से

महिला टीम के शिविर के लिए 30 खिलाड़ियों को बुलाया गया है। कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन के बाद यह सीनियर महिला टीम का यह पहला शिविर है। टीम की ट्रेनिंग के लिए विस्तार से मानक संचालन प्रक्रिया तैयार की गई हैं।

आईएएनएस अपडेटेड November 21, 2020 18:38 IST
indian women football team to start first training camp after lockdown.
भारतीय महिला फुटबॉल टीम। फोटो-आईएएनएस

Women Football Training Goa: अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने शनिवार को एक बयान जारी कर बताया है कि महिला टीम के शिविर के लिए 30 खिलाड़ियों को बुलाया गया है। कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन के बाद यह सीनियर महिला टीम का यह पहला शिविर है (First training after lockdown)। टीम की ट्रेनिंग के लिए विस्तार से मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार की गई हैं। राष्ट्रीय टीम डॉक्टर शेरविन शेरिफ की मदद से तैयार की गई एसओपी के मुताबिक शिविर में आने वाले स्टाफ और खिलाड़ियों का कोविड-19 टेस्ट (आरटी-पीसीआर) किया जाएगा और यह टेस्ट घर छोड़ने से तीन दिन पहले भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) से मान्यता प्राप्त लैब में किया जाना चाहिए।

एआईएफएफ ने एक बयान में कहा, “गोवा पहुंचने के बाद रेपिड एंटिजन टेस्ट (आरएटी) किया जाएगा और अगर परिणाम निगेटिव रहता है तो वह सात दिन के क्वारंटीन के लिए अपने कमरे में जा सकती हैं। क्वारंटीन के सफल रहने के बाद उनका आठवें दिन आर-टी पीसीआर टेस्ट किया जाएगा इसके बाद वह ट्रेनिंग में हिस्सा ले सकेंगी।” महिला टीम के कोच मायमोल रॉकी ने शिविर के लिए खिलाड़ियों का टेस्ट किया है।

गोलकीपर : अदिति चौहान, इलांग्बम पैनथोई चानू, माइबैम लिनथोइंग्मबी देबी, नारायाणसामी सोम्या

डिफेंडर: असेम रोजा देवी, जाबामणी टुडू, लोइतोन्गबम आशालता देवी, एगैंगबम स्वीटी देवी, ऋतु रानी, सोरोखाइबम रंजना चानू, मिशेल मार्गारेट कासाथाना, वांग्खेम लिनथोइंग्मबी देवी, पाक्पी देवी युमलेम्बम

मिडफील्डर: ग्रेस हाउहनर लालरामपरी, मनीषा, नोंगमेइथेम रतनबाला देवी, संगीता बसफोरे, कार्तिका अंगामुथु, सुमित्रा कामराज, कश्मीना, प्यारा खाखा।

फॉरवर्ड : ज्योति, अंजू तमांग, डांगमेई ग्रेस, करिश्मा पुरुषोत्तम शिरोवोइकर, संध्या रंगनाथन, रेणु, ज्योति, सौम्या गुगुलोथ, हेइग्रुजाम दया देवी

To Top