Hindi News

indianarrative

पाकिस्तान का दोस्त पहुंचा भारत के पास, कहा- हमारी आर्मी इस्तेमाल करेगी Made in India ट्रकें

Morocco Army Use Indian Military Trucks

Morocco Army Use Indian Military Trucks: पाकिस्तान का एक ही काम है वो ये कि किस तरह से भारत के खिलाफ जहर उगले और वो करता भी यही है। लेकिन, उसकी इन्हीं हरतों के चलते उसकी पूरी दुनिया के सामने बेइज्जती होती है। यहां तक कि, पाकिस्तान तो खेल में भी धर्म को खोज लेता है। जब पाकिस्तान और इंडिया क्रिकेट मैच में पाकिस्तान की जीत हुई तो वो इसी इस्लाम की जाती बताने लगा। वहीं, जब उत्तरी अफ्रीकी देश मोरक्को ने पिछले दिनों फीफा वर्ल्डकप में जीत को पाकिस्तान ने ‘इस्लाम की जीत’ बताया था। पाकिस्तान और मोरक्को के बीच दोस्ताना संबंध भी है। लेकिन, जब बात आती ही सुरक्षा की तो वो पाकिस्तान से किनारा करते हुए भारत के पास पहुंच जाता है। दरअसल, मोरक्को की रॉयल आर्म्ड फोर्सेस को छह पहियों वाले 92 मिलिट्री ट्रक (Morocco Army Use Indian Military Trucks) मिलने वाले हैं। खास बात यह कि इन ट्रकों का निर्माण भारतीय कंपनी टाटा एडवांस्ड सिस्टम (Tata Advanced System) ने किया है। इंडियन डिफेंस रिसर्च विंग (IDRW) ने अपनी रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी है। मुस्लिम देश मोरक्को का भारत से मिलिट्री ट्रक (Morocco Army Use Indian Military Trucks) खरीदना सुर्खियां बना हुआ है। मोरक्को ने अपनी सेना को मजबूती देने के लिए भारत पर भरोसा जाताया है। आज दुनिया में कई ऐसे देश हैं जो भारत में बने हथियार, मिसाइल, फाइटर जेट्स, सैन्य वाहन से लेकर अन्य चीजों खरीदते हैं। ये देश के लिए गर्व की बात है।

मोरक्को ने कहा भारत से आ रही हैं सैन्य ट्रकें
वहीं, मोरक्को की सेना ने भी एक बयान जारी करते हुए ट्विटर पर इसकी पुष्टि की है कि, ऑर्डर किये गये मिलिट्री ट्रकों की डिलिवरी होने वाली है। IDRW ने कुछ फोटो पोस्ट कीं जिनमें छह पहियों वाले 92 LPTA 244 ट्रक भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पोर्ट पिपावाव से मोरक्को को निर्यात किए जाने के लिए तैयार दिख रहे हैं। मिलिट्री अफ्रीका वेबसाइट ने ट्रकों की विशेषताएं बताते हुए कहा कि इन्हें हथियारबंद वाहनों में बदला जा सकता है और इनका कई तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है। वहीं, जब फीफा वर्ल्ड कप में मोरक्को सेमीफाइल में पहुंचा तो पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने इसे ‘मुस्लिम टीम’ की जीत बताया था। मोरक्को की 97 फीसदी से अधिक आबादी मुस्लिम है।

अपनी आर्मी को मजबूत बना रहा मोरक्को
मोरक्को का उद्धेश्य है अत्याधुनिक उपकरणों के साथ अपनी सेना को मजबूत और उन्नत बनाना जिसके लिए उसने भारतीय हथियारों पर भी भरोसा जताया है। दिसंबर 2022 में अमेरिकी कंपनी L3Harris Technologies ने अफ्रीकी देश की F-16s मारक क्षमता बढ़ाने के साथ-साथ ‘स्मार्ट हथियार रिलीज सिस्टम’ देने के लिए मोरक्को के साथ 29 मिलियन डॉलर के सौदे पर मुहर लगाने की घोषणा की थी। मोरक्को, अमेरिका औऱ इजरायल सहित दुनिया के कुछ सबसे मजबूत सेनाओँ वाले देशों के साथ सैन्य सहयोग बढ़ा रहा है।

यह भी पढ़ें- Pakistan को दिवालियापन से बचाने निकले शरीफ- कटोरा लेकर खैरात मांगने पहुंचे Geneva