Follow Us:

पेरिस में एक और ‘शार्ली एब्दो’: पैगंबर मुहम्मद का कार्टून दिखाने पर टीचर का सिर काटा

फ्रांस की राजधानी में एक बार फिर चार्ली एब्दो जैसी घटना हुई है। एक शख्स ने अपने बच्चों के टीचर का सिर सिर्फ इसलिए काट डाला क्यों कि उसने बच्चों को कथित रूप से पैगंबर मुहम्मद का कार्टून दिखाया था।

आईएन ब्यूरो अपडेटेड October 17, 2020 9:02 IST
Charlie Hebdo like incident, France, Paris
Charlie Hebdo like incident in France again

फ्रांस में फिर एक बार बड़ी आतंकी वारदात हुई है। राजधानी पेरिस में एक शख्स ने बच्चों को कथित रूप से बच्चों को पैगंबर मुहम्मद का कार्टून दिखाने पर टीचर की सिर काट डाला। इसके बाद उसने अल्लाह हू अकबर के नारे भी लगाए। मौके पर पहुंची पुलिस ने हमलावर को सरैंडर करने को कहा लेकिन वो बंदूक दिखाकर घटना स्थल से भाग निकला लगभग दो किलोमीटर जाकर पुलिस ने उसे घेर लिया और फिर सरैंडर के लिए कहा लेकिन इस बार उसने पुलिस पर जैसे ही निशाना लगाना चाहा वैसे ही पुलिस ने उसे मार गिरया। पेरिस पुलिस ने इसे आतंकी वारदाता करार दिया है।

फ्रांस और पश्चिमी मीडिया में छपी खबरों के मुताबिक पेरिस की इस घटना ने एक बार फिर ‘शार्दी एब्दो’ की याद दिला दी है।

पेरिस की इस घटना के बारे में जानकारी मिली है कि टीचर ने बच्चों को पैगंबर का कार्टून दिखाया था जिससे यह शख्स नाराज था। वो टीचर के पास चाकू लेकर पहुंचा और उनका सिर काट दिया। सूचना पाकर जब पुलिस वहां पहुंची तो आरोपी वहीं मौजूद था। पुलिस को हथियार दिखाकर वह मौके से भाग निकला। करीब दो मील दूर पहुंचकर उसने फिर से पुलिस को बंदूक दिखाई और सरेंडर करने से इनकार कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हमलावर ने बंदूक पुलिस के ऊपर तान दी थी जिसके बाद पुलिस ने उसे गोली मार दी। घटनास्थल से करीब 10 गोलियां चलने की आवाज सुनी गई। घटना की जांच कर रहे अधिकारियों ने आरोपी को संदिग्ध आतंकी करार दिया है।

यह घटना ऐसे वक्त में हुई है जब पेरिस में 2015 में हुए शार्ली एब्दो हमले की सुनवाई चल रही है। वह आतंकी हमला भी पैगंबर मोहम्मद के कार्टून छापने से नाराज होकर किया गया था। यही नहीं, इस साल उस केस की सुनवाई शुरू होने के बाद मैगजीन ने फिर से कार्टून छापे थे जिस पर अल-कायदा ने धमकी दी थी कि 2015 का हमला आखिरी नहीं था।

हालांकि, पेरिस में हुई इस ताजा घटना की जिम्मेदारी किसी आतंकी गुट ने नहीं ली है।

To Top