NOIDA और Lucknow में बढ़े कोरोना के मरीज, मास्क जरूरी, योगी का आदेश ढूंढ़-ढूंढ़ कर लगाई जाए कोरोना वैक्सीन

18042022122402-Corona-Noida.webp

यूपी में ढूंढ़-ढूंढ़ कर लगेगी कोरोना वैक्सीन

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना के मरीजों की संख्या में बढोतरी को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने एक बार फिर कोरोना प्रोटोकॉल यानी प्रतिबंध लागू कर दिए हैं। योगी सरकार ने प्रादेशिक राजधानी लखनऊ और नोएडा-ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और अन्य बड़े शहरों में मास्क पहन कर घर से बाहर निकलना अनिवार्य कर दिया है। अगर कोरोना के मरीजों की संख्या इसी तरह बढ़ती है तो नाइट कर्फ्यू या और वीकली कर्फ्यू भी लागू किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में कहा कि प्रदेश की सीमा से लगे कुछ राज्यों में कोविड संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखने को मिल रही है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के जिलों में इसके प्रभाव के मद्देनजर गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर और बागपत के साथ-साथ राजधानी लखनऊ में भी सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाने को अनिवार्य कर दिया गया है। सरकार ने कोविड-19 के मामलों में खासी गिरावट होने के मद्देनजर इस महीने के शुरू में मास्क लगाने से छूट दे दी थी।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के जिलों में कोविड-19 संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में गौतमबुद्ध नगर में कोविड के 65 और गाजियाबाद में 20 नये मरीज मिले हैं। इसके अलावा राजधानी लखनऊ में भी 10 नये मरीज पाए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने यह भी आदेश दिये 'एनसीआर के जनपदों में कोविड रोधी टीकाकरण से छूटे लोगों को चिन्हित कर उन्हें टीका लगाया जाए। लक्षणयुक्त लोगों की जांच कराई जाए।मुख्यमंत्री ने कहा कि एनसीआर में कोविड संक्रमित पाए गए मरीजों के नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग के दौरान कोविड के ओमीक्रोन स्वरूप की ही पुष्टि हुई है।

उन्होंने कहा, 'विशेषज्ञों के अनुसार, संभव है कि संक्रमण के मामलों में इजाफा हो लेकिन अस्पताल में भर्ती होने अथवा मरीज के अति गंभीर होने की स्थिति नहीं होगी। फिर भी लोगों को कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन के लिए जागरूक किया जाए।'