पाकिस्तान की नापाक हरकत, जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कश्मीरी पंडित को मारी गोली

जम्मू-कश्मीर-में-आतंकियों-ने-कश्मीरी-पंडित-को-मारी-गोली.webp

पाकिस्तान की नापाक हरकत

पाकिस्तान के आतंकी फिल्म द कश्मीर फाइल्स के बाद बौखला गए हैं। इस फिल्म में आतंकियों की सच्चाई दिखाई गई है कि कैसे जेहाद ने घाटी में जन्म लिया और कश्मिरी पंडितों के खून से पूरे जम्मू-कश्मीर को रंग दिया। अब जब ये सच्चाई सामने आई है तो पाकिस्तान के आतंकी बिल में से निकलने लगे हैं और बौखला गए हैं। वैसे भी पाकिस्तान लगातार भारत पर अपनी बुरी नजर गड़ाए बैठे रहता है और जम्मू कश्मीर लगातार अपनी नापाक साजिश को अंजाम देते रहता है। पाकिस्तान लगातार कश्मीर में अशांति फैलाने का कम कर रहा है। आतंकियों ने इस फिल्म के रिलीज होने के बाद घाटी में कश्मीरी पंडित को गोली मार दी है।

आतंकियों ने शोपियां में एक कश्मीरी पंडित को गोली मार दी। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया है। उसे गंभीर हालत में स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमले की सूचना के बाद पूरे इलाके को सुरक्षाबलों ने घेर लिया है। वहीं, लाल चौक के मैसुमा में आंकियों ने हमला बोल दिया जिसमें सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक की मौत हो गई है। साथ ही आतंकियों ने पुलवामा में भी स्थानीय लोगों को निशाना बनाया है। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। सबसे बड़ी बात यह कि, एक दिन पहले ही रविवार को सेना ने पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास गांव से बड़ी संख्या में हथियार बरामद किए थे। वहीं, राजोरी जिले के नौशेरा में एलओसी से घुसपैठ को नाकाम बनाते हुए सेना ने एक घुसपैठिए को मार गिराया। आतंकी से हथियार और गोलियां बरामद की गई हैं। फिलहाल ऑपरेशन जारी है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार को आतंकवादियों ने गैर-स्थानीय दो लोगों को गोली मार दी। अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24घंटों में गैर-स्थानीय लोगों पर आतंकवादियों का यह दूसरा हमला है। उन्होंने बताया, पुलवामा के लाजूरा में सोमवार दोपहर में आतंकवादियों ने पटलेश्वर कुमार और जाको चौधरी पर गोलियां चलायीं। दोनों बिहार के रहने वाले हैं। इसके आगे उन्होंने कहा कि, घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारी ने बताया कि और जानकारी की प्रतीक्षा है। इससे पहले आतंकवादियों ने रविवार की शाम पुलवामा के नौपोरा इलाके में दो गैर-स्थानीय मजदूरों को गोली मार दी थी। दोनों पंजाब के रहने वाले थे।