अरविंद केजरीवाल का विधायक हिस्ट्रीशीटर घोषित, Delhi Police ने एक दो नहीं इतने मामले दर्ज किए

अरविंद-केजरीवाल-का-विधायक-हिस्ट्रीशीटर-घोषित.webp

अरविंद केजरीवाल का विधायक हिस्ट्रीशीटर घोषित

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि उनकी आम आदमी पार्टी में किसी भी भ्रष्ट और अपराधी नेता के लिए कोई जगह नहीं है। उनका कहना है कि उनकी पार्टी में कोई भी नेता ऐसा नहीं है। लेकिन, सच तो यह है कि आप के अधिकतर नेताओं में कई दाग हैं। कईयों के ऊपर तो आपराधिक मामले दर्ज हैं। मौजूदा समय की बात करे तो आप का एख विधायक हिस्ट्रीशीटर घोषित हो चुका है। दिल्ली पुलिस ने इस विधायक के ऊपर एक दो केस नहीं बल्कि कुल 18 मामले दर्ज किए हैं।

ये कोई और नहीं बल्कि AAP पार्टी का विधायक अमानतुल्लाह खान (Amanatullah Khan) है। जो अपने कारनामों के चलते लगातार सुर्खियों में रहता है। अमानतुल्लाह खान के अपराध लगातार बढ़ते जा रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने कहा है कि, 'आप' विधायक अमानतुल्लाह खान को 30 मार्च को ही हिस्ट्रीशीटर और बीसी (बैड कैरेक्टर) घोषित किया जा चुका है। अमानतुल्लाह खान के खिलाफ अब तक 18 आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस का दावा है कि अमानतुल्ला एक हैबीचुअल ऑफेंडर हैं। उनके खिलाफ जमीन पर कब्जा करने व मारपीट करने के भी मामले दर्ज हैं।

जामिया नगर एसएचओ की ओर से 28 मार्च को अमानतुल्लाह खान को बंडल ए का बीसी बनाए जाने का प्रस्ताव जारी किया गया था, जिसे डीसीपी ने 30 मार्च को मंजूरी दे दी थी। वहीं, दिल्ली के विभिन्न इलाकों में नगर निगमों का अतिक्रमण विरोधई अभियान लगातार जारी है। गुरुवार को दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के मदनपुर खादर इलाके में हुए हिंसक प्रदर्शन और पथराव के दौरान स्थानीय लोगों ने बुलडोजर को रोकने की कोशिश की और सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया था। इस दौरान आप विधायक अमानतुल्ला खान ने मदनपुर खादर के कंचन कुंज में अपने समर्थकों और स्थानीय लोगों के साथ नगर निगम के इस अभियान का विरध कर रहा था।

इसके बाद आप विधायक को दंगे और सरकारी कर्मचारियों के काम में बाधा पहुंचाने के आरोपों के तहत गिरफ्तार कर लिया गया था, जहां से बाद में उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिाय गया। बताया जा रहा है कि अमानतुल्ला खान की गिरफ्तारी के विरोध में आज ओखला और शाहीन बाग के कई बाजार बंद रखे गए हैं। डीसीपी ईशा पांडेय ने बताया था कि, भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। अमानतुल्ला खान और उनके पांच समर्थकों को दंगा करने और सरकारी कर्मचारियों को उनके कर्तव्य पालन से रोकने के आरोपों के तहत गिरफ्तार किया गया है।