दुनिया का ये इलाका बना दूसरा Wuhan, 90 फीसदी कोरोना मरीज Omicron Variant से संक्रमित

दूसरा-वुहान-बना-दुनिया-का-ये-इलाका.webp

दूसरा वुहान बना दुनिया का ये इलाका

कोरोना वायरल का नया वेरिएंट का संक्रमण लगातार बढ़ते जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका से निकला ये वायरस अब तक 12 देशों में पाया जा चुका है जिसके बाद इस नए वेरिएंट से दुनिय में दहशत फैली हुई है। दक्षिण अफ्रीका सहित जिन 12 देशों में कोरोना वायरस के नए मामले पाए गए उनमें अधिकांस  'ओमीक्रॉन' वेरिएंट' (Omicron Variant) से ही संक्रमित पाए गए। अब एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमें दुनिया के एक इलाके को दूसरा वुहान बताया गया है और यहां पर 90 फीसदी लोग इस नए वेरिएंट से संक्रमित हैं।

यह भी पढ़ें- अगर दिखे ये लक्षण तो समझ जाएं कोरोना का नया वेरिएंट ओमीक्रोन है- देखें कितना खतरनाक है

खबरों की माने तो अब स्वास्थ्य विशेषज्ञों को दक्षिण अफ्रीका में इसके एपिसेंटर का पता चल गया है। कहा जा रहा है कि, दक्षिण अफ्रीका में श्वाने इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Tshwane University of Technology) इसका एपिसेंटर है। यहां के कई छात्र कोरोना की चपेट में आए हैं। इसके मद्देनजर कई परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। जोहान्सबर्ग का गौतेंग प्रांत ओमीक्रॉन वेरिएंट का केंद्र बनकर उभरा है।

गौतेंग प्रांत (Gauteng) में 90 फीसदी मामले इसी वेरिएंट से जुड़े हुए हैं। दक्षिण अफ्रीका में सबसे बड़ी मुसीबत कम वैक्सीनेशन दर है क्योंकि, यहा की 18 से 34 साल की आबादी में से केवल 22 फीसदी को ही कोरोना की वैक्सीन लगाई गई है। यहां लोग वैक्सीन लेने से हिचकिचा भी रहे हैं, जिसके लिए लोगों को अब अपने साथियों को वैक्सीन की डोज लेने के लिए राजी करना पड़ रहा है। लोगों को समझाया जा रहा है कि अगर उन्हें कोरोनावायरस से खुद को सुरक्षित रखना है तो वैक्सीन लगवानी होगी। जो कि एक मात्र तरीका है वायरस से बचने का।

यह भी पढ़ें- Omicron Corona: किन लोगों पर हमला कर सकता है क्रोरोना का ओमिक्रान वेरिएंट- देखें रिपोर्ट

बता दें कि, कोरोना का अब तक दुनिया भर में, अल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा जैसे वेरिएंट सामने आ चुके हैं। लेकिन अबतक सबसे खतरनाक डेल्टा वेरिएंट का माना जा रहा था जो दूसरी लहर में जमकर तबाई मचाया। लेकिन अब ओमीक्रॉन वेरिएंट दुनिया के सामने एक नई मुसीबत बनकर उभरा है। इस वेरिएंट के सामने आने के बाद से ही दुनियाभर के देशों ने ट्रैवल पर बैन लगा दिया है। कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका पर ट्रैवल बैन लगा दिया है।