पक्के हनुमान भक्त हैं केशव महाराज, मिली South Africa की नागरिकता, पर दिल है ‘हिंदुस्तानी’

keshv.webp

केशव महाराज हैं हनुमान भक्त

मौजूदा समय में भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 5 टी20 मैचों की सीरीज 2-2 से ड्रॉ रही। दरअसल, सीरीज का पांचवां टी20 मैच बारिश की वजह से धूल गया।  पांचवें टी20 मैच में साउथ अफ्रीकी कप्तान केशव महाराज थे। बता दें, केशव महाराज का उत्तर प्रदेश से गहरा ताल्लुक है साथ ही वे हनुमान भक्त भी हैं। दरअसल भारतीय मूल के केशव महाराज साउथ अफ्रीका में रहते हैं और वहां की तरफ से क्रिकेट खेलते हैं। केशव महाराज के पूर्वज उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले के रहने वाले थे। लेकिन अब वह अफ्रीका में रहकर भी हिंदू रिति-रिवाज को फॉलो करते हैं और वह हनुमान जी के बड़े भक्त हैं। केशव महाराज के पूर्वज 1874में भारत से डरबन नौकरी की तलाश में पहुंचे थे और फिर वहीं बस गए।

साउथ अफ्रीका में हुआ जन्म

इस साल जनवरी में जब भारतीय टीम को साउथ अफ्रीका के हाथों 3-0से हार झेलनी पड़ी था। तब उन्होंने सोशल मीडिया पर 'जय श्री राम' लिखा था। हिंदू संस्कृति को फॉलो करने के कारण केशव महारज सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रिय हैं। केशव महाराज का जन्म 7फरवरी 1990को साउथ अफ्रीका में हुआ था। केशव महाराज के पिता भी साउथ अफ्रीका की तरफ से घरेलू क्रिकेट खेल चुके हैं।

ये भी पढ़े: IND vs SA: दिनेश कार्तिक की तूफानी पारी में उड़ गई South Africa, बोले- इसका क्रेडिट मैं सिर्फ इनको देता हूं

केशव महाराज ने साउथ अफ्रीका के लिए तीनों ही फॉर्मेट में क्रिकेट खेला है। उन्होंने अफ्रीकी टीम के लिए 42टेस्ट मैचों में 150विकेट, 21वनडे मैचों में 26विकेट और 9टी20मैचों में 7विकेट अपने नाम किए हैं। वह अपनी खतरनाक गेंदबाजी के लिए फेमस हैं, उनकी गेंदों को समझना हमेशा से ही बल्लेबाजों के लिए टेढ़ी खीर रहा है।

अफ्रीका और भारत बराबरी पर

बता दें, साउथ अफ्रीकी टीम ने भारत के खिलाफ पहले दो मैच में बहुत ही शानदार खेल दिखाया, लेकिन उसके बाद टीम इंडिया ने वापसी कर लगातार 2 मैच जीतकर सीरीज 2-2 से बराबर कर दी। साउथ अफ्रीका के लिए डेविड मिलर, हेनरिक क्लासेन और क्विंटन डि कॉक ने अच्छा खेल दिखाया।