पेट्रोल के दाम 235 रुपए प्रति लीटर और डीजल पहुंचा 260 रुपये के पार! श्रीलंका जैसे हो गए हालात

petrol.webp

Pakistan Petrol Diesel Price Hike

पड़ोसी देश पाकिस्तान में इस समय महंगाई के मामले में रिकॉर्ड तोड़ इजाफा होता जा रहा है। पाक में महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ दी है। ऐसे में नई सरकार शाहबाज शरीफ के सामने फिलहाल सबसे  बड़ी चुनौती देश की गिरती अर्थव्यवस्था है। आलम यह है कि यहां सिर्फ एक दो चीज़ों में नहीं बल्कि हर चीज के दामों में अच्छी-खासी वृद्धि होते दिख रही है। वहीं पेट्रेल-डीजल की कीमतों में तो जैसे मानों आग ही लग गई है। अभी जहां कुछ दिनों पहले 30 रुपये इनके दाम बढ़ा दिए गए हैं।  इसी बीच पाक हुकूमत ने एक बार फिर से पेट्रोल के दाम में इजाफा कर दिया है। इस बार पेट्रोल के दाम में प्रति लीटर 24.03 रुपए बढ़ाए गए हैं। इसके साथ ही पाकिस्तान में पेट्रोल की नई कीमत अपने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। 

जी हां, पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत में एक बार फिर से भारी इजाफा हुआ है। पाकिस्तान में प्रति लीटर पेट्रोल की कीमत 233 रुपये से ऊपर पहुंच गई है।  यहां एक दिन में प्रति लीटर 24 रुपए दाम बढ़ गए हैं। पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार ने बुधवार को घोषणा करते हुए प्रति लीटर पेट्रोल की कीमत में 24 रुपये का इजाफा करने का फैसला किया।

ये भी पढ़े: जेल जाएंगे Pak PM पीएम शाहबाज शरीफ, Money Laundering मामले में लटकी तलवार!

पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल ने 15 जून को घोषणा करते हुए कहा कि सरकार अब पेट्रोलियम पदार्थ पर सब्सिडी वहन करने की स्थिति में नहीं है। ऐसे में सरकार ने पेट्रोल के दाम में 24.03 रुपये की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है। इस बढ़ोतरी के बाद पाकिस्तान में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 233.89 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई है।

पाकिस्तान में पेट्रोल के दाम में भारी इजाफा

पाकिस्तान में पिछले 20 दिनों के भीतर पेट्रोलियम पदार्थ पर इस तरह की तीसरी बढ़ोत्तरी है। पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत में 24.03 रुपये का इजाफा किया गया है। जिसके बाद पेट्रोल की कीमत बढ़कर 233.89 रुपये प्रति लीटर हो गई है। वहीं डीजल की कीमत में 16.31 रुपये की बढ़ोत्तरी के बाद ये 263.31 रुपये प्रति लीटर हो जाएगी।

इस बीच पाकिस्तान में मिट्टी के तेल की नई कीमत 29.49 रुपये की बढ़ोत्तरी के बाद 211.43 रुपये होगी और लाइट डीजल की कीमत 29.16 रुपये की वृद्धि के बाद 207.47 रुपये होगी। वित्त मंत्री इस्माइल ने कहा कि सरकार के पास अंतरराष्ट्रीय कीमतों का असर पाकिस्तान में उपभोक्ताओं पर डालने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।