शेयर बाजार में हाहाकार! ब्लैक मंडे साबित हुआ आज का दिन निवेशकों के 6 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा डूबे, अब क्या होगा?

share.webp

Share Market Update

भारतीय शेयर बाजार के लिए आज का दिन पूरी तरह से ब्लैक मंडे साबित होते दिख रहा है। विदेशी निवेशकों की बिकवाली के चलते  मुंबई स्टॉक एक्सचेंज के सूचकांक सेंसेक्स में 1500और निफ्टी में 400से ज्यादा अंकों की गिरावट देखी जा रही है। वैश्विक कारणों से भारतीय शेयर बाजार में आए इस गिरावट के चलते बाजार खुलने के कुछ ही मिनटों में निवेशकों को 6लाख करोड़ रुपये की चपत लग गई है।

निवेशकों को 6 लाख करोड़ रुपये का नुकसान

पिछले हफ्ते शुक्रवार को जब बाजार बंद हुआ था बीएसई में लिस्टेड स्टॉक्स का मार्केट कैपिटलाईजेशन 251.84लाख करोड़ रुपये था जो घटकर 246.12लाख करोड़ रुपये तक गिर चुका है। बाजार में गि्रावट का हाल ये है कि 3403शेयर में 2624शेयर लाल निसान में ट्रेड कर रहे हैं जबकि केवल 655शेयर हरे निसान में कारोबार कर रहे। 241शेयरों में लोअर सर्किट लगा है।

किस वजह से गिरा बाजार

दरअसल अमेरिका में महंगाई 40साल के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा है। ऐसे में माना जा रहा है कि अमेरिका के फेडरल रिजर्व की बैठक 14से 15जून को होने वाली है जिसमें फेड रिजर्व ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला ले सकता है। ऐसे में शेयर बाजार में निवेशित निवेशक अपने निवेश को दुनिया भर के शेयरों बाजारों से बाहर निकालकर सुरक्षित जगहों पर निवेश करने के लिए बिकवाली कर रहे हैं।

रुपये में गिरावट है जारी

डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट जारी है। एक डॉलर के मुकाबले रुपये घटकर 78.26रुपये के रिकॉर्ड निचले स्तरों पर जा लुढ़का है। इसके चलते आयात लगातार महंगा होता जा रहा है। कंपनियां की लागत बढ़ रही है, जिससे इन कंपनियों को कीमतें बढ़ाना होगा, जिससे घरेलू मांग पर असर पड़ेगा। सरकार का वित्तीय घाटा भी बढ़ सकता है। जून में विदेशी निवेशक 14,000करोड़ रुपये निवेश वापस निकाल चुके हैं।