क्रिसमस से पहले कई देशों में बढ़ा कोरोना का खतरा- दुनिया में फिर लगने लगी लॉकडाउन जैसी पाबंदियां

क्रिसमस-से-पहले-कई-देशों-में-बढ़ा-कोरोना-का-खतरा.webp

क्रिसमस से पहले कई देशों में बढ़ा कोरोना का खतरा

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद थोड़ी राहत देखने को मिली, सारी चीजें फिर से सामान्य दिखने लगी। लेकिन अब एक बार फिर से कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन ने पूरे दुनिया की टेंशन बढ़ा दी है। अब ऐसा लगता है कि लोग क्रिसमस और नये साल का सेलिब्रेशन नहीं कर पाएंगे। यूरोप में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखने के बाद लॉकडाउन समेत कई तरह की पाबंदियां लगनी शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ें- दूसरी लहर से भी ज्यादा बदतर हो सकती है हालात! अमेरिका में Covid-19 के नए वेरिएंट का ज्यादा खतरा- रिपोर्ट

दुनिया भार में कोरोना के नए केसों की संख्या में इस महीने की शुरुआत के मुकाबले 12 फीसदी का उछाल देखने को मिला, हर दिन औसतन 6.6 लाख नए केस मिल रहे हैं। बीते सप्ताह के मुकाबले इस सप्ताह 5 फीसदी अधिक केस मिल रहे हैं। हालांकि, राहत की बात यह है कि भारत और दक्षिण एशिया में इसके मामले कम हैं।

अब तक पूरी दुनिया में जितने भी मामले मिल रहे हैं उनमें से 58 फीसदी मामले अकेले यूरोप से हैं। और इनमें से भी 20 फीसदी मामले अमेरिका में मिले हैं। ब्रिटेन समेत कई देशों में कोरोना के नए ओमीक्रॉन वेरिएंट कहर बरपा रहा है। एक ही हफ्ते में यूनइटेड किंगडम में कोरोना के नए केसों का आंकड़ा 51 फीसदी बढ़ते हुए 51,297 से 77,601 पहुंच गया है। इस बीच संकट से निपटने के लिए नीदरलैंड ने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लगा दिया है। ब्रिटेन भी ऐसे ही फैसले पर विचार कर रहा है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इसे लेकर चेतावनी भी दे चुके हैं। जर्मनी और नॉर्वे ने भी नए केसों को थामने के लिए लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लगा दी हैं।

यह भी पढ़ें- Joe Biden ने लोगों की दी नए वेरिएंट को लेकर चेतावनी, बोलें- वैक्सीन नहीं लेने पर गंभीर हो सकता है मामला

इधर कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए फ्रांस की सरकार ने लोगों से जल्दी से जल्दी टीके लगवाने की अपील की है। फ्रांस के पीएम ज्यां कास्टेक्स का कहना है कि 5वीं लहर देश में आ सकती है। उन्होंने कहा कि, नया वेरिएंट ओमीक्रॉन देश में कहर बरपा रहा है और नए साल की शुरुआत में सबसे ज्यादा केस इसके ही मिल सकते हैं।