Alert! शरीर में हो रहा है ऐसा बदलाव तो तुरंत हो जाएं सावधान, हो सकता है Omicron

Omicron-से-बचाव-में-जुटी-दुनिया.webp

Omicron से बचाव में जुटी दुनिया

Omicron Variant: दुनिया में अब एक बार फिर कोरोना वायरस का खतरा बढ़ने लगा है। ब्रिटेन और अमेरिका में तो इस वेरिएंट ने तबाही मचा रखी है। ब्रिटेन में रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए हैं। एक दिन पहले यहां 2 घंटे के भीतर रिकॉर्ड 1 लाख 19 हजार के दर्स किए गए हैं। अमेरिका के भी लगभग हर राज्य में ओमिक्रॉन के मामले मिले हैं। इस बीच नए वेरिएंट से बचाव के लिए हर संभव कोशिश हो रही है। इसके लिए अध्ययन किए जा रहे हैं। इसके साथ ही ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय (Oxford University Study) के अनुसंधानकर्ताओं के एक नए अध्ययन में बताया है कि कोविड-19 की एस्ट्राजेनेका और फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन ने ओमिक्रॉन वेरिएंट के खिलाफ महत्वपूर्ण रूप से प्रतिरक्षा बढ़ाई है।

यह भी पढ़ें- क्रिसमस से पहले कई देशों में बढ़ा कोरोना का खतरा- दुनिया में फिर लगने लगी लॉकडाउन जैसी पाबंदियां

स्टडी में ये बात उभर कर सामने आई है कि, वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों और तीसरी डोज लिए लोगों के रक्त के नमूनों में एंटीबॉडी के स्तर की तुलना की गई। इसमें दो डोज कोरोना वायरस के पुराने वेरिएंट की तुलना में ओमिक्रॉन के खिलाफ काफी कम सुरक्षा प्रदान की लेकिन, तीसरी डोज लगाने के बाद एंटीबॉडी तेजी से बढ़ गई। इसमें पता चला कि टीकाकरण नहीं कराने वाले लोग, जो कोविड-19 से उबर गए हैं, उनमें ओमिक्रॉन से फिर से संक्रमण के खिलाफ बहुत कम प्रतिरक्षा है।

वहीं, इसके लक्षण के बारे में बात करें तो, इसपर अभी कोई पुख्ता रिपोर्ट तो नहीं आई है लेकिन हाल ही में वैज्ञानिकों ने चेतावनी जारी करते हुए इसके कुछ लक्षण (symptoms of omicron variant) के बारे में बताया।

ओमीक्रॉन रोगियों की जांच करने वाले वैज्ञानिकों ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका में अध्ययन किए गए ओमीक्रॉन रोगियों में एक सामान्य लक्षण (symptoms of omicron virus) मिला है। गले में खराश का होना। वैसे तो गले में खराश का होना एक सर्दी में एक आम बात है लेकिन इन हालातों में आप इस लक्षण को नजरअंदाज नहीं कर सकते।  दक्षिण अफ्रीका स्थित डिस्कवरी हेल्थ के सीईओ डॉ रयान नोच ने एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान बताया कि डॉक्टरों ने ओमीक्रोन से पीड़ित रोगियों में लक्षणों के कुछ अलग सेट को नोट किया है, सबसे आम शुरुआती संकेत में गले में खराश और नाक का बंद हो जाना शामिल है। यही लक्षण यूके में भी मरीजों में पाया गया है, इन रोगियों में सिरदर्द और थकान सहित चार लक्षण मजूद थे जिसमें सभी के गले में खराश थी। यूके में 3 दिसंबर से 10 दिसंबर के बीच मामलों की जांच से पता चला है कि मुख्य रूप से सर्दी जैसे लक्षण ओमीक्रॉन के सबसे सामान्य लक्षण थे।

यूके की ZOE सिमटम्स ट्रैकिंग स्टडी में ओमीक्रॉन लक्षण को लेकर बताया गया है कि इसमें... (symptoms of omicron variant)

सर्दी जैसे लक्षण

नाक बहना

सिरदर्द

थकान (हल्की या गंभीर)

छींकना और गले में खराश होना शामिल है।

डेल्टा के लक्षण (symptoms of Delta variant)

बुखार

लगातार खांसी

थकान

गंध और स्वाद की कमी

कुछ में जठरांत्र संबंधी समस्याएं होती हैं।

यह भी पढ़ें- दूसरी लहर से भी ज्यादा बदतर हो सकती है हालात! अमेरिका में Covid-19 के नए वेरिएंट का ज्यादा खतरा

इसके साथ ही WHO ने भी ओमीक्रॉन पर अपन नई तकनीकी ब्रीफिंग में कहा कि, पुराने वेरिएंट डेल्टा की तुलना में ओमीक्रॉन ज्यादा तेजी से फैल रहा है। स्टडी के मुताबकि यह वायरस 1.53 दिनों के बीच दोगुना हो रहा है। यूके में ZOE कोविड स्टडी के प्रमुख वैज्ञानिक प्रोफेसर टिम स्पेक्टर ने कहा, हमारे नए डेटा के मुताबिक, ओमीक्रॉन के लक्षण मुख्य रूप से ठंड के लक्षण, बहती नाक, सिरदर्द, गले में खराश और छींक हैं, इसलिए लोगों को घर पर रहना चाहिए क्योंकि यह कोविड हो सकता है।