बड़े हमले की तैयारी में था China, जैसे ही Taiwan में घुसे चीनी लड़ाकू विमान वैसे ही कर दिया...

बड़े-हमले-की-तैयारी-कर-रहा-China.webp

बड़े हमले की तैयारी कर रहा China

ताइवान को लेकर चीन के रवैये इन दिनों आक्रामक हैं। वो लगातार ताइवान पर दबाव और डराने के लिए अपने लड़ाकू विमानों को उनके एयर डिफेंस जोन में भेज रहा है। लेकिन, ताइवान डरने वाला नहीं है। क्योंकि, ताइवान के साथा अमेरिका संग नाटो देशों का साथ है और यही चीन के लिए सबसे बड़ी मुश्किल है। ताइवान को लेकर चीन और अमेरिका इन दिनों आमने सामने हैं। हाल के दिन में अमेरिका के टॉप अफसर और कई नेता ताइवान का दौरा कर चुके हैं। जिसे लेकर चीन का कहना है कि अमेरिका मान जाए वरना इसका अंजाम बुरा होगा। दरअसल, चीन का कहना है कि ताइवान उसका हिस्सा और ताइवान का कहना है कि उसकी अपनी आजादी है। अमेरिका भी कह चुका है कि, अगर ड्रैगन ने ताइवान को लेकर कोई भी कदम उठाया तो वो उसकी रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है। अब चीन नए एक बार फिर से ताइवान में लड़ाकू विमान भेजे हैं। लेकिन, इस बार ताइवना ने इन चीनी लड़ाकू विमानों को खदेड़ दिया।

चीन ने इस बार ताइवान में अपने 29 लड़ाकू विमान भेजे हैं। चीन ताइवान के इलाके को खुद का एयर डिफेंस आइडेंटिफिकेशन जोन घोषित कर दिया है। ताइवान के एयरस्पेस में चीन के लड़ाकू विमान और एंटी सबमरीन एयरक्राफ्ट उड़ते दिखायी दिए। इस साल चीन की यह तीसरी बार हरकत है जब कि उसने बड़ी संख्या में लड़ाकू विमान ताइवान में भेजे हैं। चीन की यह हरकत पूरे इंटो-पैसिफिक क्षेत्र के लिए बुरी खबर है।

ताइवान का दावा है कि उसने चीन के विमानों को अपने जेट से खदेड़ दिया है। बता दें कि अमेरिका कई बार आशंका जता चुका है कि चीन ताइवान पर हमला कर सकता है। अमेरिका ने यह भी खुला ऐलान कर दिया है कि अगर ऐसा होता है तो वह ताइवान की मदद के लिए सेना भेजेगा। वहीं, हाल ही में ताइवान को लेकर एक ऑडियो क्लिप सामने आया था जिसमें चीन के टॉप अधिकारी ताइवान पर हमला करने की रणनीति तैयार कर रहे हैं। इस ऑडियो क्लिप के सामने आने के बाद पूरी दुनिया में हंगामा मच गया। हालांकि, ड्रैगन ने इसे साफ इनकार कर दिया।