China के हाथों बिक गया है Pakistan! ग्वादर में ड्रैगन बना रहा अपना International Airport- देखें सबूत

Pakistan-के-Gwadar-में-China-बना-रहा-इंटरनेशनल-एयरपोर्ट.webp

Pakistan के Gwadar में China बना रहा इंटरनेशनल एयरपोर्ट

यह कहना गलत नहीं होगा कि पाकिस्तान अपने सदाबहार दोस्त चीन के हाथों बिक गया है। क्योंकि, इस वक्त जो पाकिस्तान में चल रहा है उसे देख कर तो यही लगता है। अभी तक को यहां पर चीन CPEC और BRI प्रोजेक्ट पर काम कर रहा था अब खबर है कि वो यहां पर एक और नया प्रोजेक्ट शुरू कर दिया है और ये अगले साल 2023तक ही तैयार हो जाएगा। खबरों की माने तो कहा यह भी जा रहा है कि, पाकिस्तान ने अपने गिरती अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए ग्वादर और बलूचिस्तान को चीन के हाथों गिरवी रख दिया है। अब इसका सबूत भी सामने आने लगा है।

मीडिया में आ रही खबरों की माने तो चीन इस वक्त पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रदेश के ग्वादर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बना रहा है और इसका काम 15सितंबर 2023तक पूरा भी होने का संभवाना है। हालांकि, यह एयरपोर्ट चीन-पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर के तहत बनाया जा रहा है। न्यू ग्वादर इंटरनेशनल एय़रपोर्ट चीन की रणनीति के हिसाब से बेहद ही अहम है। इस प्रोजेक्ट पर चीन ने 2019में काम शुरू किया था और इसमें 1800करोड़ रुपये खर्च होने वाले हैं।

यह प्रोजेक्ट पूरी तरह से चीनी सरकार द्वारा फंड किया गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार 18 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र को कवर करते हुए बन रहा ग्वादर एयरपोर्ट पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा हवाई अड्डा होगा। एयरपोर्ट पर दो रनवे बनाए जा रहे हैं। अब तक प्रोजेक्ट का 40 फीसद से अधिक काम पूरा किया जा चुका है और टर्मिनल आकार ले रहा है। नए एयरपोर्ट में मॉडर्न टर्मिनल के साथ ही एक कार्गो टर्मिनल भी होगा जिसकी शुरुआती क्षमता 30 हजार टन सालाना होगी। ग्वादर एयरपोर्ट एयरबस A380 और बोइंग 747-8 जैसे वाइड बॉडी एयरक्राफ्ट को भी आसानी से संभालेगा। न्यू ग्वादर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के कंस्ट्रक्शन का काम चाइना कम्युनिकेशंस कंस्ट्रक्शन कंपनी कर रही है और इसके सितंबर 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है।