बॉर्डर पर नहीं लड़ सका तो अब जासूसी कराने पर उतरा China, नोएडा में अवैध रूप से रह रहे चीनी जासूसों ने खोला कई राज

China-spies-in-India.webp

बॉर्डर पर नहीं लड़ सका तो अब जासूस कराने पर उतरा China

चीन वो देश है जिसके चलते कुछ देशों को छोड़कर दुनिया के सभी देश परेशान हैं। हर एक के नाक में ड्रैगन ने दम कर रखा है। चीन की कई हरकतों में से एक जासूसी भी है। चीन अपने जासूसों को अलग-अलग देशों में भेजकर वहां के जरूरी डेटा का पता लगाता है। अमेरिका में भी चीन ने अपने जासूस फैला रखे थे। अमेरिका ने कई चीनी कंपनियों पर जासूसी के मामले में लिप्त पाते हुए उन्हें ब्लैकलिस्ट में डाल दिया है। भारत में भी इस वक्त चीन के जासूस पैर पसार रहे हैं। इस कड़ी में नोएडा में 2चीनी नागरिक अवैध रूप से रह रहे थे। ये भारत-नेपाल सीमा से जासूसी के शक में गिरफ्तार किए गए हैं।

पकड़े गए दोनों चीनी नागरिकों से पूछकाछ के दौरान पता चला कि ये गौतम बुद्ध नगर की जेपी ग्रीन सोसाइटी तथा घरबरा गांव स्थित गेस्ट हाउस में 15दिन तक अवैध रूप से रह रहे थे। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि, कि नोएडा पुलिस ने बिहार में भारत-नेपाल सीमा पर जासूसी के संदेह में पकड़े गए चीनी नागरिकों को यहां अवैध रूप से शरण देने के आरोप में चीनी नागरिक सु-फाई तथा उसकी गर्लफ्रेंड को गिरफ्तार किया है।

चांज में पता चला कि, शरण देने वाले चीनी नागरिक की भी वीजा की अवधि समाप्त हो चुकी है। लेकिन, इसके बाद भी वो अवैध रूप से भारत में रह रहा था। जांच के लिए पुलिस अधिकारियों ने एक जांच समिति गठित की है। पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) मीनाक्षी कात्यान ने बताया कि अपर पुलिस उपायुक्त विशाल पांडे को मामले की जांच करने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि यह भी पता लगाया जाएगा कि क्या पुलिस की ओर से कोई लापरवाही रही।

दरअसल, 11 जून को भारत-नेपाल सीमा पर बिहार के सीतामढ़ी क्षेत्र में SSB ने 2 चीनी नागरिकों-लु लैंग और तो यूं हेलंग को पकड़ा था। नोएडा पुलिस के मुताबिक, ये दोनों आरोपी 15 दिन तक ग्रेटर नोएडा के घरबरा स्थित एक गेस्ट हाउस व जेपी ग्रींस सोसाइटी में रुके थे और दोनों को यहां पनाह चीनी नागरिक सु-फाइ व उसकी महिला मित्र पेटेख रेनुओ ने दी थी। अधिकारियों ने कहा कि सु-फाई ने भारत में 3 फर्जी कंपनियां खोल रखी हैं, जिनके माध्यम से लाखों रुपये का लेन-देन हुआ है। इस वक्त केंद्रीय जांच व खुफिया एजेंसिया इन चीनी नागरिकों से गहनता से पूछताछ कर रही है। 3 दिन का पुलिस रिमांड लेकर चीनी जासूसों को शरण देने वाले चीनी नागरिक तथा उसकी गर्लफ्रेंड से पूछताछ की गई। जिसके बाद कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज व भारी मात्रा में शराब बरामद की गई है। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि गेस्ट हाउस में रात में पार्टी चलती थी।