Dengue Fever: कोरोना के बीच अब मच्छरों का कोहराम, लगातार सामने आ रहे 'डेंगू' के केस, जानिए इसके लक्षण और बचाव

dengu-in-india.jpg

photo courtesy Google

एक तरफ जहां कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे है, तो वहीं डेंगू के केस भी अब सामने आने लगे है। मच्छर के काटने से डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों की शिकायत लेकर लोग डॉक्टरों के पास जा रहे है। ऐसे में आज हम राष्ट्रीय डेंगू दिवस के मौके पर आपको इस बीमारी के बारे में छोटी से छोटी जानकारी देंगे। साथ ही इसके लक्षण के बारे भी बताएंगे। डेंगू एक ऐसा बुखार है, जो मच्छर के काटने से होता है। इसमें सिर में दर्द, तेज बुखार, शरीर में दर्द जैसी परेशानियां होती है।

क्या है डेंगू ?- डेंगू एक मच्छर जनित वायरल इंफेक्शन है, जिसमें तेज बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों एवं जोड़ों में दर्द, त्वचा पर चकत्ते आदि निकल आते है। ये फीमेल एडीज मच्छर के काटने से होता है। डेंगू 'फ्लेविविरिडे' परिवार का वायरस है। हालांकि, ये वायरस 10 दिनों से ज्यादा समय तक जीवित नहीं रहते, लेकिन लापरवाही की गई तो डेंगू रक्तस्रावी बुखार या डीएचएफ का रूप ले सकता है जिसमें भारी रक्तस्राव, ब्लड प्रेशर में अचानक गिरावट और आखिर में मौत तक हो सकती है।

डेंगू के लक्षण- डेंगू हल्काम और गंभीर दोनों तरीके से हो सकता है। संक्रमित होने पर इसके लक्षण 4 से 5 दिनों में दिखने लगते है। इसके लक्षण तेज बुखार होना, सिरदर्द, मांसपेशियों, हड्डियों और जोड़ों में दर्द, उल्टी, जी मिचलाना, आंखों में दर्द होना, त्वचा पर लाल चकत्ते होना, ग्लैंड्स में सूजन होना आदि हैं। जबकि गंभीर मामले होने पर पेट दर्द, लगातार उल्टी होना, मसूड़ों या नाक से रक्तस्राव, मूत्र, मल या उल्टी में खून आना, त्वचा के नीचे रक्तस्राव होना, सांस लेने में कठिनाई, थकान महसूस करना, चिड़चिड़ापन या बेचैनी आदि हैं।

अगर आपको डेंगू के लक्षण दिखे तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। कंप्लीमट ब्लड काउंट टेस्ट कराएं, जिससे जानकारी मिले कि शरीर में प्लेईटलेट्स की क्या स्थिति है। इसी के आधार पर डॉक्टर आपका इलाज करते है। खूब सारा पानी और ओआरएस पिएं। खाने पीने पर खास ध्यान रखें। सूप,काढ़ा, नारियल पानी, अनार आदि का अधिक सेवन करें, खिचड़ी और दलिया खाएं।

Covid-19 In India