महिलाएं ही नहीं बल्कि अब पुरुष भी ले सकेंगे गर्भनिरोधक गोलियां, जानें कैसे करेगी काम ?

Birth_Control_Pills.jpg

photo courtesy Google

अनचाही प्रेगनेंसी रोकने के लिए अकसर कपल्स कंडोम का इस्तेमाल या फिर गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करते है। आजकल मार्किट में कई गर्भनिरोधक गोलियां उपलब्ध है, लेकिन महिलाओं के इन गोलियों के सेवन से उनके शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। एक गोली लेने से उनके हॉर्मोंस का संतुलन बिगड़ सकता है। बावजूद इसके मजबूरी में महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करना पड़ता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि पुरुषों के लिए भी गर्भनिरोधक गोलियां विकसित की गई है।

जी हां, अब पुरुष भी गर्भनिरोधक गोलियां का सेवन कर सकते हैं और सबसे अच्छी बात यह है कि यह गोलियां पुरुषों के लिए पूरी तरह सुरक्षित और कारगर है। दरअसल, लॉस एंजेलिस बायोमेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के शोधकर्ताओं का दावा है कि अब पुरुष भी गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल कर सकेंगे। ये गोलियां पुरुषों में स्पर्म बनने से रोकने में पूरी तरह से सक्षम हैं। इन गोलियों को लेने से पुरुषों में कोई स्वास्थ्य संबंधी समस्या भी नहीं होगी।

कैसे काम करती है- बर्थ कंट्रोल पिल्स मेल बर्थ कंट्रोल दवाइयों के आने से महिलाओं और पुरुषों में एक नई उम्मीद जगी है। कई बार महिलाएं इसे लेने में सक्षम नहीं होती हैं। ऐसे में उनकी सेक्स लाइफ भी प्रभावित होने लगती है। पॉपुलेशन काउंसिल और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ और ह्यूमन डेवलपमेंट के शोधकर्ताओं ने मिलकर पहले बर्थ कंट्रोल जेल बनाया था, जो पुरुषों में स्पर्म प्रोडक्शन को कम करता है।

किस उम्र के पुरुष कर सकते हैं इसका सेवन- आपको बता दें कि मेल बर्थ कंट्रोल कॉन्ट्रासेप्टिव का शोध 18 से 50 वर्ष के हेल्दी पुरुषों पर किया गया है। इन सभी लोगों को 28 दिन तक रोजाना बर्थ कंट्रोल गोलियां दी गईं। इनके साथ 10 पुरुषों को प्लेसिबो दिया गया। जांच के दौरान शोधकर्ताओं ने यह जानने की कोशिश कि रोजाना गोली लेने से कोई साइड इफेक्ट होता है या नहीं। नतीजों मे सामने आया कि रोजाना गोलियां लेने से पुरुषों में सिर्फ चक्कर आने, शरीर पर दाने निकलने और सिर दर्द की ही शिकायत देखी गई। लेकिन फिर भी वैज्ञानिकों का दावा है कि ये पिल्स पूरी तरह सेफ हैं।