मछली है या एलियन! काला शरीर, पारदर्शी सिर और शिकार पकड़ने के लिए 360 डिग्री घूमा लेती है आंखें

barreleye-fish.webp

courtesy google

ब्रह्मांड में कई चीजें ऐसी मौजूद है, जिसे देख आप रह जाएंगे। बात करें अगर जीवों की तो समुद्र में कई ऐसी जीव मौजूद है, जिसकी तुलना वैज्ञानिक एलियंस से कर रहे है। इस कड़ी में कैलिफोर्निया के तट पर समुद्र से लगभग 2,000 फीट नीचे एक मछली देखी गई है। मछली का सिर पारदर्शी है, बाकी शरीर ज्यादातर काला है। इसकी आंखें चेहरे के पीछे दो चमकते हरे रंग के गोले की तरह दिखाई देती थी। जब ये मछली भोजन की तलाश में होती है तो ये अपनी आंखों का इस्तेमाल ऊपर और आगे दोनों दिशाओं में देखने के लिए करती हैं।

यह भी पढ़ें- 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, महंगाई भत्ते में होगी जबरदस्त बढ़ोतरी, हुआ ये बड़ा ऐलान

इसकी आंखों को ट्यूबलर आंखों के रूप में जाना जाता है, जो आमतौर पर गहरे समुद्र के जीवों में होती हैं। इसमें एक बहु-परत रेटिना और एक बड़ा लेंस होता है जो उन्हें एक दिशा से अधिकतम प्रकाश ग्रहण करने की अनुमति देता है। शुरुआत में माना जाता था कि इसकी आंखें अपनी जगह पर टिकी हुई थीं लेकिन 2019 में एक नए अध्ययन से पता चला कि मछली की असाधारण आंखें एक पारदर्शी सिर के भीतर घूम सकती हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस मछली का नाम 'बैरेली मछली' है।

यह भी पढ़ें- अपने करियर के मुताबिक धारण करें रुद्राक्ष, मिलेगा भगवान शिव का आशीर्वाद, हर क्षेत्र में मिलेगी कामयाबी 

जानकारी के मुताबिक, मोंटेरे बे एक्वेरियम रिसर्च इंस्टीट्यूट ने अपने रिमोट-ऑपरेटेड व्हीकल (आरओवी) का इस्तेमाल करके गहरे समुद्र में रहने वाले इस जीव की खोजा है। वीडियो को शेयर करते हुए लिखा- 'एमबीएआरआई के वेंटाना और डॉक्टर रिकेट्स जैसे वाहनों ने 5,600 से अधिक सफल गोता लगाए हैं। और 27,600 घंटे से अधिक के वीडियो रिकॉर्ड किए हैं, फिर भी हमने केवल नौ बार इस मछली का सामना किया है।' एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले हफ्ते कैलिफोर्निया के तट से दूर मोंटेरे बे में रचेल कार्सन के नेतृत्व में एक अभियान के दौरान यह बैरेली मछली देखी गई थी। लेकिन पहली बार इसकी खोज 1939 में की गई थी।