Vastu Tips: रामा या श्यामा, कौन सी तुलसी मानी जाती है ज्यादा शुभ? घर में लगाने से पहले यहां जान लें सबकुछ

d.tulsi.webp

Rama & Shyama Tulsi plant

हिन्दू धर्म में तुलसी के पौधे को विशेष महत्व दिया गया है। मान्यता है देवी तुलसी के पौधे में माता लक्ष्मी का वास होता है। आज के वक्त में ज्यादातर घरों में ये पौधा देखने को मिल ही जाता है। मांगलिक कार्यों में भी तुलसी का उपयोग विशेष तौर पर किया जाता है। ये पौधा धार्मिक दृष्टि से ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य दृष्टि से भी बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। मालूम हो, आमतौर पर दो तरह की तुलसी देखने को मिलती है एक रामा और दूसरी श्यामा। जानिए इनमें से कौन सी तुलसी घर में लगाना ज्यादा शुभ माना जाता है।

इनमें से कौन सी तुलसी घर में लगाएं? वास्तु अनुसार रामा और श्यामा दोनों की तुलसी का अपना-अपना महत्व माना जाता है। आप इनमें से कोई भी एक तुलसी घर में लगा सकते हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी के पौधे को लगाने के लिए कार्तिक मास के गुरुवार का दिन सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है।

ये भी पढ़े: Signs Before Death: मौत से ठीक पहले कैसा महसूस करता है इंसान? जानिए मृत्यु से जुड़े कुछ खास रहस्य

तुलसी लगाते समय रखने इन खास बातों का ध्यान...

-तुलसी के पौधे को बुध ग्रह का प्रतीक माना जाता है। बुध देव जिस व्यक्ति की कुंडली में धन के भाव में स्थित होते हैं उस जातक को तुलसी का पौधा छत पर नहीं रखना चाहिए। इससे धन हानि होने लगती है।

-अगर छत के अलावा तुलसी के पौधे को घर में रखने का कोई स्थान नहीं है तो इस पौधे के साथ केले का पेड़ भी लगा दें और दोनों को आपस में मौली से बांध दें।

-ध्यान रखें कि तुलसी का पौधा कभी भी कैक्टस या किसी कांटेदार पौधे के साथ नहीं लगाना चाहिए। इससे नकारात्मक ऊर्जा पैदा होती है।

-इस पौधे के पास बिल्कुल भी गंदगी न इकट्ठा होने दें। इससे घर में दरिद्रता आती है।

-अगर तुलसी का पौधा सूख जाए तो उसे ऐसे ही कहीं भी न फेंके। तुलसी के सूखे पौधे को किसी नदी में प्रवाहित कर दें। अगर ऐसा कर पाना संभव न हो तो तुलसी के पौधे को उसी गमले में दफना दें जिसमें वो सूख गयी थी।

-तुलसी के पौधे को ईशान कोण या फिर पश्चिम दिशा में लगाना सबसे शुभ माना जाता है। यदि आपके घर में एक से अधिक तुलसी के पौधे हों तो उन्हें एक ही स्थान पर लगाकर रखें।